Jharkhand Politics: रघुवर दास को छोड़कर 1 भी मुख्यमंत्री ने नहीं किया अपना कार्यकाल पूरा

chandan Prajapati
6 Min Read
Jharkhand Politics

Jharkhand Politics: झारखंड की राजनीति में हमेशा चिड़चिड़ापन रहा है क्योंकि सिर्फ 1 मुख्यमंत्री को छोड़कर आज तक अपने कार्यकाल के 5 वर्ष पूरे नही कर पाया है, पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास एकमात्र झारखंड के मुख्यमंत्री है जिन्होंने कार्यकाल के 5 वर्ष पूर्ण किए।

Jharkhand Politics

Jharkhand Politics: झारखंड की राजनीति हमेशा चर्चा में रही है क्योंकि झारखंड की राजनीति में हमेशा चिड़चिड़ापन रहा है यह बात हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि झारखंड में मात्र एक ऐसा मुख्यमंत्री रहा है जिसने अपने कार्यकाल पूर्ण किए हैं इनके अलावा बाकी सभी मुख्यमंत्री और अन्य नेताओं ने अपने कार्यकाल से पहले ही इस्तीफा ले लिया।

पिछले 23 सालों में झारखंड में 13 मुख्यमंत्री बने जिनका कार्यकाल 3 वर्ष से कम रहा हालांकि रघुवर दास एकमात्र झारखंड के ऐसे मुख्यमंत्री बने जिन्होंने अपना कार्यकाल पूर्ण किया क्योंकि उनकी भाजपा सरकार ने 28 दिसंबर 2014 को पूर्ण बहुमत की सरकार बनाकर रघुवर दास को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई और इनका कार्यकाल 29 दिसंबर 2019 को समाप्त हुआ।

Read More: Amitabh Bachchan 81 की उम्र में करते खून पसीने से भी अधिक मेहनत

Jharkhand Politics: ऐसा क्या कारण है जिसकी वजह से झारखंड की राजनीति में अधूरापन रहा है और 12 मुख्यमंत्री ऐसे रहे हैं जिन्होंने अपना कार्यकाल ही पूरा नहीं किया है तो आपको बता दे की पिछले 23 सालों में झारखंड में सिर्फ एक बार चुनाव को छोड़कर बाकी चुनाव में पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बनी है।

यही मुख्य कारण है कि झारखंड में न पूर्ण बहुमत की सरकार बनी और न हीं किसी भी मुख्यमंत्री का कार्यकाल पूरा हुआ हो, भारतीय जनता पार्टी ने 2014 में हुए चुनाव में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी जिसमें रघुवर दास को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई और यह एकमात्र ऐसे मुख्यमंत्री है जिन्होंने अपना पूर्ण कार्यकाल संभाला।

हेमंत सोरेन बनेंगे 3 बार 13वें मुख्यमंत्री

Jharkhand Politics: झारखंड की राजनीति में अर्जुन मुंडा के बाद हेमंत सोरेन ऐसे मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं जो तीसरी बार और झारखंड के 13वें मुख्यमंत्री बनने वाले हैं, वही इसे पहले झारखंड के मुख्यमंत्री पद पर चंपाई सोरेन ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है।

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ अफवाहें भी पहले जा रही है जिम बताया जा रहा है कि चंपाई सोरेन द्वारा दिया गया मुख्यमंत्री पद का इस्तीफा देने के बाद से इंसल्ट फील कर रहे हैं और इसका बदला जल्द लेने वाले हैं लेकिन ऐसा कुछ नहीं है।

Jharkhand Politics: हेमंत सोरेन झारखंड के तीसरी बार 13वें मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं, इससे पहले हेमंत सोरेन ने झारखंड के मुख्यमंत्री पद पर 29 दिसंबर 2019 को शपथ ली थी और 31 जनवरी 2024 को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया हालांकि इस्तीफा देने का मुख्य कारण ईडी की कार्यवाही रही जहां मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद हेमंत सोरेन को जेल भेज दिया गया।

हेमंत सोरेन के इस्तीफा देने के बाद और जेल जाने के बाद झारखंड मुख्यमंत्री का कार्यकाल चंपाई सोरेन ने संभाला और 2 फरवरी 2024 को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली लेकिन अब हेमंत सोरेन की जेल से बाहर आने के बाद 3 जुलाई 2024 को चंपाई सोरेन को इस्तीफा देना पड़ा और अब फिर से हेमंत सोरेन ने अपने सरकार बनाने का दावत ठोक दिया है और फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं।

Jharkhand Politics
Jharkhand Politics ____________ Image Source: Google

बाबूलाल मरांडी पहले मुख्यमंत्री

Jharkhand Politics: अब बात करते हैं हम झारखंड राज्य की पहली मुख्यमंत्री के बारे में तो आपको बता दे की झारखंड राज्य सन 2000 में अस्तित्व में आया इसके बाद सन 2000 में चुनाव करवाए गए और 15 नवंबर 2000 को भारतीय जनता पार्टी की नेता बाबूलाल मरांडी राज्य के पहले मुख्यमंत्री बने हालांकि उनकी सरकार पूर्ण कार्यकाल नहीं कर पाई और बाबूलाल मरांडी के बाद 18 मार्च 2003 को अर्जुन मुंडा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ दी और 2 मार्च 2005 को इस्तीफा दिया।

Jharkhand Politics: झारखंड राज्य में अब तक एकमात्र ऐसा मुख्यमंत्री रहा है जिसे अपना कार्यकाल पूरा किया है, भारतीय जनता पार्टी ने साल 2014 में अपनी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई जिसमें रघुवर दास को 28 दिसंबर 2014 को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई और रघुवर दास ने 29 दिसंबर 2019 को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया।

Disclaimer– यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि gsguruji.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें।

Share This Article
मेरा नाम चंदन गोला है. मैंने अपना 3 साल मिडिया पर एडिटिंग में बिताया है. अब Gsguruji.com न्यूज़ वेबसाइट पर अपनी भूमिका निभा रहा हूँ। मुझे टेक्नोलॉजी क्षेत्र में काम करने का बहुत अनुभव है.
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *